World AIDS Day : amazing Facts HIV AIDS in Hindi

0
77

​नमस्कर दोस्तों, जैसे की आप जानते है 1 December को World AIDS Day होता है। Aids क्या है ? Aids और HIV kya hai ? HIV में क्या अंतर है ? इस तरहा के Unknown Facts About HIV in Hindi में आपके लिए लाया है जो आपको पता नही है। हमारी आपसे request है कि आप इस article कप अच्छेसे पढ़ें, समझें और जरुरतमंद लोगो में share करे। ताकि इस जानकारी का सबको फायदा मिले। तो चलिए शुरू करते है बात Unknown Facts About HIV.

unknown facts about hiv

यौन संचारित रोगों में एचआईवी सबसे खतरनाक माना जाता है। विश्व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन WHO के आंकडों के मुताबिक दुनिया भर में होने वाली मौतों की बड़ी वजह एचआईवी संक्रमण है।

World AIDS Day : Unknown Facts About HIV AIDS in Hindi

1 : Aids से अलग है HIV

एचआईवी का नाम सुनते ही दिमाग में भयावह तस्‍वीर आती है। दरअसल, HIV और AIDS में अंतर होता है। एचआईवी पॉजीटिव होने का अर्थ यह नहीं कि वह व्‍यक्ति AIDS से प्रभावित है। इसके अलावा एचआईवी/एड्स के बारे में कुछ अन्‍य तथ्‍य जानने के लिए पढ़े.

2 : क्‍या है HIV?

Hiv का मतलब होता है Human Immunodeficiency Virus अगर Hiv का सही वक्त पर इलाज किया नही जाये तो AIDS का खतरा पैदा कर देता है।

3 : कैसे फैलता है HIV वायरस

एचआईवी फैलने का सबसे बड़ा कारण एचआईवी संक्रमित व्‍यक्ति के साथ असुरक्षित यौन संबंध होता है। संक्रमित रक्‍त चढ़ाने से अथवा सं‍क्रमित सुई के इस्‍तेमाल से भी एचआईवी वायरस फैल सकता है। इसके साथ ही गर्भवती महिला से उसके होने वाले शिशु को यह संक्रमण हो सकता है। शिशु को यह संक्रमण स्‍तनपान के जरिये भी हो सकता है।

4 : दुनिया भर में साढ़े तीन करोड़ लोग हैं संक्रमित

WHO के आंकड़ों के अनुसार दुनिया भर में फिलहाल 35.3 मिलियन यानी करीब साढ़े तीन करोड़ लोग एचआईवी से संक्रमित हैं। इनमें से करीब 2.1 मिलियन यानी करीब 21 लाख लोगों की उम्र 10 से 19 वर्ष के बीच है। एक अनुमान के अनुसार वर्ष 2012 में 2.3 मिलियन यानी करीब 23 लाख नये लोगों को एचआईवी संक्रमण हुआ।

5 : मौत की बड़ी वजह

दुनिया भर में एड्स लोगों की जान लेने की सबसे बड़ी वजह में शुमार है। एक अनुमान के अनुसार यह रोग अभी तक 36 मिलियन यानी करीब तीन करोड़ 60 लाख लोगों को मौत का ग्रास बना चुका है। अकेले वर्ष 2012 में एचआईवी/एड्स के कारण करीब 16 लाख लोगों ने अपनी जान गंवायी।

6 : ART रोकती है HIV का प्रभाव

एंटीरेट्रोवायरल थैरेपी से एचआईवी को शरीर में बढ़ने से रोका जा सकता है। ऐसा करके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को लंबे समय तक कायम रखा जा सकता है। इससे शरीर को संक्रमण का खतरा भी कम होता है। अगर एचआईवी से संक्रमित साथी एआरटी थैरेपी ले रहा है, तो उसे साथी को भी यौन संबंधों के द्वारा संक्रमण होने का खतरा काफी कम हो जाता है।

7 : करीब 35 लाख बच्‍चों को HIV

विश्व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के 2012 के आंकड़ों के अनुसार सब सहारन अफ्रीक के अधिक एचआईवी संक्रमित बच्‍चों को यह रोग अपनी मां से गर्भ में, जन्‍म के दौरान अथवा स्‍तनपान के जरिये मिला। वहीं करीब 700 मिलियन यानी सात करोड़ बच्‍चे हर साल एचआईवी से संक्रमित हो जाते हैं।

8 : संक्रमित मां से बच्‍चे को बचाया जाना आसान

अगर सही समय पर जांच व इलाज करवा लिया जाए, तो संक्रमित गर्भवती महिला से होने वाले बच्‍चे को इस रोग से बचाया जा सकता है। एक आंकड़े के अनुसार वर्ष 2012 में HIV से संक्रमित 62 फीसदी गर्भवती महिलाओं को ऐसी दवा दी गयी जिससे होने वाले बच्‍चों को इस खतरे से बचाया जा सके।

9 : HIV से बढ़ता है TB का खतरा

एचआईवी के कारण टीबी का खतरा काफी बढ़ जाता है। वर्ष 2012 में एचआईवी संक्रमित करीब तीन लाख 32 हजार लोगों की मौत टीबी से हुई। यह उस वर्ष दुनिया में एचआईवी से होने वाली कुल मौतों का बीस प्रतिशत था।

10 : HIV से बचने के उपाय

यौन संचारित रोगों की नियमित जांच करवाते रहें। इसके साथ ही यौन संबंध बनाते समय कण्‍डोम का इस्‍तेमाल करें। इस्‍तेमाल की गई सीरिंजों को पुन: प्रयोग में न लायें और रक्‍त चढ़ाने से पहले उसकी शुद्धता की पुष्टि जरूर कर लें। इन उपायों को आजमा कर आप इस खतरनाक जानलेवा रोग से बच सकते हैं।

Last word : Facts About HIV के बारे में जानकारी आपको अच्छी लगी होगी तो share जरूर करे। हमारे नए पोस्ट की जानकारी पाने के लिए हमें facebook पर follow करे।

SHARE
Hello friends, I'm Founder and CEO of Wikihunt.in, i'm Professional Blogger, SEO Consultant & Writer About Make Money, SEO, Blogging, Health, Gadget etc.

Leave a Reply